UPI Transaction, UPI ID will be closed after 31December, 31 दिसंबर के बाद बंद हो जाएगी UPI आईडी, तुरंत कर लें ये काम...

UPI Transaction 

आजकल लोग Cash रखना पसंद नहीं कर रहे और Online payment App PhonePe ,Google Pay और UPI से Transaction करते हैं अगर आप Money Transfer के लिए UPI का इस्तेमाल करते है तो ये खबर आप के लिए है 31 दिसंबर के बाद बंद हो सकती है UPI ID आज ही कर लें ये काम 

UPI Transaction, NPCI guidlines

NPCI New Guidelines ऐसे में एक बड़ी खबर सामने आ रही है NPCI की ओर से सभी बैंकों को निर्देश जारी किये गए है 31 दिसंबर के बाद इन UPI ID को बंद कर दिया जाए जो काफी समय से निष्क्रिय पड़ी है अब 31 दिसंबर के बाद सभी बैंक, PhonePe और Google Pay जैसे थर्ड पार्टी एप निष्क्रिय पड़ी UPI ID को बंद करने जा रहे हैं

National Payments Corporation of India (NPCI) ने सभी बैंक और थर्ड पार्टी एप को निर्देश दिए है कि वह उन UPI IDs को बंद करें जिनमें एक साल से कोई Transaction / लेनदेन नहीं हुआ हो इस प्रक्रिया के लिए (NPCI) ने 31 दिसंबर तक का समय दिया है.
आप को चाहिए की आप के पास जितने भी UPI ID Inactive हो उसे आप 31 दिसंबर से पहले Active कर ले, बैंको की ओर से UPI ID Deactivate करने से पहले सूचित किया जायेगा बैंक अपने सभी यूजर्स को ईमेल या मैसेज के जरिए नोटिफिकेशन भेजेगा ऐसा माना जा रहा है (NPCI ) के इस महत्वपूर्ण कदम से UPI Transactions पहले से भी ज्यादा सुरक्षित हो सकते है और साथ ही गलत Transactions में भी कमी आएगी

NPCI नई गाइडलाइन्स

  • सभी थर्ड पार्टी एप और PSP बैंक निष्क्रिय ग्राहकों की UPI ID और उससे जुड़े मोबाइल नंबर का वेरिफिकेशन करेगी
  • नई गाइडलाइन्स के मुताबिक यदि एक साल से किसी भी तरह का कोई लेनदेन UPI ID न हुआ हो तो उसे बंद कर दिया जाएगा अनुमान है आने वाले नए साल में कस्टमर इन आईडी से ट्रांजैक्शन नहीं कर पाएंगे
  • सभी Transactions सुरक्षित रहेंगे और गलत Transactions की नहीं रहेगी कोई गुंजाइश
  • NPCI ने ऐसी UPI ID की पहचान करने के लिए बैंकों और थर्ड पार्टी एप को 31 दिसंबर तक का समय दिया है
  • NCPI के इस बदलाव के जरिए सुनिश्चित किया जायेगा कि पैसा किसी गलत व्यक्ति को ट्रांसफर न हो जिसके कारन इन पैसो का कोई गलत इस्तेमाल ना हो पाए 

क्या UPI ID से जुड़े मोबाइल नंबर को बंद करना चाहिए

कई बार ऐसा होता के नेटवर्क Issue, बेस्ट ऑफर्स या किसी प्रकार की परिशानी से लोग अपना मोबाइल नंबर बदल लेते हैं लेकिन उससे जुड़े UPI ID को बंद करना भूल जाते हैं और टेलीकॉम कंपनी Norms के अनुसार कई दिनों तक नंबर बंद रहने की वजह से वह मोबाइल नंबर किसी और को मिल जाता है लेकिन इस नंबर से पुरानी UPI ID जुड़ी रहती है ऐसे में गलत Transactions की आशंका कई गुना बढ़ जाती है



Post a Comment (0)
Previous Post Next Post